हिंदी में विटामिन बी१२ – कमी, मुख्य स्रोत

विटामिन बी१२
इन्फोग्राफिक वेक्टर क्रिएटेड बाय freepikwww.freepik.com

विटामिन बी१२ क्या है? (What is Vitamin B12?)

विटामिन बी१२, अन्य विटामिनों की तरह, पानी में घुलनेवाला पदार्थ है। बी१२ विटामिन को सायनोकोबालामिन (Cyanocobalamin) के नाम से जाना जाता है। आइए देखें हिंदी में विटामिन बी१२

शरीर में डीएनए (DNA) (डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक एसिड) बनाने में मदद करता है। साथ ही यह विटामिन हमारे दिमाग की रीढ़ की हड्डी की (मस्तिष्क रीढ़ की हड्डी की तंत्रिका) के काम को रेगुलेट करने का काम करता है। साथ ही, विटामिन बी१२ शरीर में मेटाबॉलिज्म (Metabolism) को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है।

विटामिन बी१२ का नियमित सेवन आरबीसी (लाल रक्त कोशिकाओं) के निर्माण में मदद करता है। साथ ही ये विटामिन आपकी एकाग्रता को बढ़ाते हैं और कैंसर जैसी बीमारियों में भी विटामिन बी१२ फायदेमंद होता है। जो लोग चिकन मीट फिश नहीं खाते हैं। जो लोग शाकाहारी होते हैं उनमें भी विटामिन बी१२ की कमी अधिक होती है।

मुख्य स्रोत – विटामिन बी१२ स्रोत

जिगर, वसायुक्त मछली, चिकन, मटन, केकड़ा, अंडे, दूध, पनीर, कॉड लिवर तेल, काजू, केला, पत्तेदार सब्जियां, डेयरी उत्पाद, गाजर, चुकंदर, अदरक, साबुत अनाज, साग, अखरोट, किशमिश

कमी से होने वाली समस्याएं – विटामिन बी१२ की कमी

१) विटामिन बी१२ पांडु रोग का कारण बनता है।

२) खून कि कमी इसे एनीमिया भी कहा जाता है।

३) शरीर में कमजोरी महसूस होना।

४) सांस की तकलीफ।

५) सिरदर्द।

६) कानों से आवाज आना।

७) भूख न लगना।

८) मुंह के छाले।

९) कमजोर दृष्टि।

१०) विटामिन बी१२ चिड़चिड़ापन का कारण बनता है।

११) डिप्रेशन आना।

१२) पागलपन।

१३) हाथ-पैर में झुनझुनी आना।

शरीर की दैनिक जरूरतें स्वास्थ्य के अनुसार

उम्र के हिसाब सेकम से कम हर दिन आवश्यक खुराक
जन्म से ६ महीने तक के बच्चे०.४ मिलीग्राम
९ से १३ वर्ष के लड़के/लड़कियां१.८ मिलीग्राम
१४ से १८ साल के बच्चे२.४ मिलीग्राम
१४ से १८ साल की लड़कियां२.४ मिलीग्राम
१९ से ५० वर्ष के बीच के पुरुष२.४ मिलीग्राम
गर्भवती महिलाओं को२.६ मिलीग्राम
स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए२.८ मिलीग्राम

विटामिन बी१२ हिंदी में – जानकारी अच्छी लगे तो शेयर और कमेंट जरूर करें।

सेहत का ध्यान रखें। घरेलू उपाय करने से पहले आप अपने नजदीकी डॉक्टर और सही व्यक्ति से जरूर सलाह लें।

अन्य पढ़ें:-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *